Uncategorized

संचारी रोग नियंत्रण ! 19 अक्टूबर से 17 नवम्बर तक दिमागी बुखार के संबध में जन-जागरूकता

दिमागी बुखार

संचारी रोग नियंत्रण ! 19 अक्टूबर से 17 नवम्बर तक दिमागी बुखार के संबध में जन-जागरूकता
पीएम न्यूज सर्विस सिद्धार्थनगर । विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान (दस्तक) के तीसरे चरण का शुभारम्भ जिला संयुक्त चिकित्सालय में मुख्य अतिथि  सांसद डुमरियागंज  जगदम्बिका पाल, विशिष्ट अतिथि  विधायक कपिलवस्तु  श्यामधनी राही, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि  उपेन्द्र कुमार सिंह एवं जिलाधिकारी  दीपक मीणा द्वारा सर्वप्रथम दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया।
 मुख्य अतिथि  सांसद डुमरियागंज  जगदम्बिका पाल ने कहा कि  मुख्यमंत्री जी द्वारा संचारी रोग पर प्रभावी नियंत्रण पाने के लिए सभी विभागों को समन्वय बनाकर अभियान के रूप में कार्य करने के लिए प्रेरित किया है। मुख्यमंत्री जी का उद्देश्य है कि इस बीमारी को जड़ से खत्म करना है तो हम सभी को मिलकर गांव/शहर को स्वच्छ रखने में सहयोग करना चाहिये। वेक्टर जनित बीमारी अथवा जल जनित बीमारी को बचाव के द्वारा कम किया जा सकता है।
संचारी रोग नियंत्रण के लिए जागरूकता वाहन के द्वारा जनपद में प्रचार प्रसार किया जायेगा। जिससे सभी लोग अपने घर के आस पास साफ-सफाई रखें जिससे मच्छर आदि न पनपने पायें। जिससे इस पर नियंत्रण किया जा सकता है। मा0 विधायक कपिलवस्तु श्यामधनी राही, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि  उपेन्द्र कुमार सिंह द्वारा भी अपना विचार व्यक्त किया गया।
जिलाधिकारी  दीपक मीणा ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद सिद्धार्थनगर में  19 अक्टूबर से 17 नवम्बर 2021 तक दिमागी बुखार के संबध में व्यापक रूप से जन-जागरूकता हेतु दस्तक अभियान आयोजित किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने बताया कि इस अभियान के अन्तर्गत स्वास्थ्य विभाग के प्रशिक्षित स्वास्थ्य कार्यकर्ता दस्तक अभियान में घर-घर जाकर बीमारियों से बचाव, उपचार तथा सन्दर्भन के संबध में विभिन्न जानकारी देंगे।
जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए बताया कि दस्तक एक व्यापक सामाजिक एवं व्यवहार परिवर्तन संचार रणनीति है जो लोगों को बचाव और सही समय पर उपचार के संदेश पहुॅचाकर लोगों को दिमागी बुखार की समस्या से बचने के लिए प्रेरित करेंगे। उन्होंने बताया कि दस्तक का शाब्दिक अर्थ है दरवाजा खटखटाना इस अभियान के जरिए दिमागी बुखार का संदेश हर एक घर और परिवार तक पहुॅचाने का हमारा लक्ष्य है।
इस अभियान को प्रभावी रूप से भूमिका निभाने के लिए आशा, ऑगनबाड़ी एवं ए0एन0एम0, स्कूली शिक्षक एवं प्रधान की अहम भूमिका है। उन्होने बताया कि इस अभियान के अन्तर्गत बुखार के रोगियों को निकटवर्ती सरकारी अस्पताल में त्वरित एवं सही उपचार कराये जाने के लिए विशेष बल दिये जाने की आवश्यक्ता है। गांवो में आशा, ऑगनबाड़ी द्वारा बुखार, टी0वी0 रोगियों तथा अति कुपोषित बच्चों को चिन्हित भी किया जायेगा। घरो पर स्टीकर चस्पा कर लागों को जागरूक भी किया जायेगा।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 संदीप चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद की सभी आशा ब्लाक स्तरीय दिमागी बुखार/बैठक एवं प्रशिक्षण में भाग लेगी। प्रशिक्षण के बाद आशा से अपेक्षित है कि वे हर घर तक पहुॅचे जिस घर में 15 वर्ष से कम उम्र के बच्चे हो उन परिवारों से संपर्क स्थापित करे तथा साथ ही साथ गृह भ्रमण का ट्रैक रखने के लिए तथा अपने गृह संपर्क दर्शाने के लिए वह घर में प्रमुख जगह पर स्टीकर लगाना सुनिश्चित करेंगे।
इसके पश्चात मुख्य अतिथि मा0 सांसद डुमरियागंज जगदम्बिका पाल द्वारा सभी लागों को संचारी रोग के नियंत्रण के लिए शपथ दिलाया गया। मुख्य अतिथि मा0 सांसद डुमरियागंज श्री जगदम्बिका पाल, विशिष्ट अतिथि मा0 विधायक कपिलवस्तु  श्यामधनी राही, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि  उपेन्द्र कुमार सिंह एवं जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा जिला संयुक्त चिकित्सालय से विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान (दस्तक) के जागरूकता वाहन को हरी झ्ांडी दिखाकर रवाना किया गया। यह जागरूकता वैन जनपद में संचारी रोग नियंत्रण के बारे में लोगों को जागरूक करेगी।
इस कार्यक्रम में प्रधानाचार्य, स्वशासी चिकित्सा महाविद्यालय डॉ0 सलिल श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 संदीप चौधरी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 नीना वर्मा, जिला मलेरिया अधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक, स्टाफ नर्स आदि की उपस्थित रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button