डीएम ने थाई मांगुर मछली के पालने एवं बीज उत्पादन, वितरण तथा तालाबों में संचय हेतु किया प्रतिबन्धित

सुलतानपुर 13 मार्च, जिलाधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने बताया कि माननीय राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण नई दिल्ली द्वारा जारी अपने निर्णय में समस्त राज्यों में थाई मांगुर मछली के पालने एवं इसके मत्स्य बीज उत्पादन, वितरण तथा तालाबों में संचय को उसे अत्यधिक मांशाहारी प्रवृत्ति के कारण अन्य स्थानीय जलीय जीव जन्तुओं एवं मछलियों के अस्तित्व के खतरे को देखते हुए प्रतिबन्धित कर दिया गया है तथा उक्त प्रजाति की मछलियों का पालन कर रहे मत्स्य पालकों को तत्काल स्टाक को नष्ट करने हेतु निर्देशित किया गया।
जिलाधिकारी श्री गिरि ने उक्त आदेश के क्रम में जनपद सुलतानपुर में थाई मांगुर मछलियों के पालन तथा उक्त प्रजाति के मत्स्य बीज उत्पादन एवं संचय को पूर्णरूप से प्रतिबन्धित करते हुए सम्बन्धित मत्स्य पालकों को सूचित किया है कि उक्त प्रजाति की मछलियों/मत्स्य बीज के स्टाक को तत्काल नष्ट कर दें अन्यथा गठित टास्क फोर्स टीम द्वारा विनिष्टीकरण की कार्यवाही की जायेगी एवं विनिष्टीकरण पर होने वाला व्यय सम्बन्धित मत्स्य पालक से वसूल करके उसके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही भी की जायेगी।
उन्होंने बताया कि उक्त प्रजाति की मछलियों के विनिष्टीकरण हेतु टास्क फोर्स टीम गठित की जा चुकी है, जिसमें सम्बन्धित उप जिलाधिकारी द्वारा नामित नायब तहसीलदार, सम्बन्धित थानाध्यक्ष द्वारा नामित सब इंस्पेक्टर स्तर का पुलिस कर्मी, मत्स्य प्रभारी तहसील सदर एवं तहसील जयसिंहपुर वसुदेव, मत्स्य प्रभारी तहसील लम्भुआ एवं बल्दीराय बीएन तिवारी तथा मत्स्य प्रभारी तहसील कादीपुर के लिये प्रवीन कुमार अंचल हैं।
——————————————————————————
जिला सूचना कार्यालय सुलतानपुर द्वारा जनहित में प्रसारित।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.