*बस्ती से विकास पाण्डेय की रिपोर्ट*

पीएम संवाददाता। वालटरगंज। कहा जाता है कि जहां पर चाहत होती है वहां पर आज के भागदौड़ की जिंदगी में समय कोई मायने नहीं रखता है कुछ ऐसा ही कारनामा पुलिस महकमे में रहकर वाल्टरगंज थाने पर तैनात सिपाही सतीश कुमार पांडे कर रहे हैं जहां आजकल लोंग सोशल मीडिया पर हर त्यौहारों की बधाई देकर इतिश्री कर ले रहे हैं वहीं बसंत पंचमी के अवसर पर सतीश कुमार पांडे दलित और समाज से कटे हुए बच्चों के लिए शिक्षा के क्षेत्र में अलग जगाने का प्रयास कर रहे हैं जोकि समाज के लिए अनुकरणीय है

पुलिस महकमे में 2006 में भारतीय सतीश कुमार पांडे अपने कार्यप्रणाली को लेकर थाना क्षेत्र में चर्चा का विषय बने रहते हैं गरीबों को दवा उपलब्ध कराना या किसी का टूटा हुआ सामान उस तक पहुंचाना इन की फितरत में है थाने में तैनात सिपाही कई बार अपनी कार्यप्रणाली को लेकर चर्चा में बने रहते हैं चाहे बाप सड़क दुर्घटना हो क्या या कोई अन्य प्रकार की घटना हो उसमें अपनी जान को जोखिम में डालकर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते चले आ रहे हैं

बसंत पंचमी के अवसर पर सतीश कुमार पांडे थाना क्षेत्र के विभिन्न ईट भट्टों पर काम करने वाले मजदूरों के बच्चों से मिलकर उनको काफी कैंसिल किताब और इसके साथ ही खाने पीने के सामान का वितरण किया और उनके परिजनों से उन्हें स्कूल भेजने के लिए प्रेरित करने का प्रयास किया है जोकि जनता के बीच पुलिस की नकारात्मक छवि को सुधारने की दिशा में एक पहल भी देखा जा सकता है

सतीश कुमार पांडे के इस कार्यप्रणाली को लेकर क्षेत्र में चर्चा का विषय है लोगों का कहना है श्री पांडे जब से थाने पर तैनात हुए हैं तब से लेकर अब तक पुलिस की छवि को सुधारने का अपने स्तर से प्रयास कर रहे हैं आज उन्होंने उस समाज को छूने का प्रयास किया है जिस समाज तक सरकारी कागजों में अधिकारी पहुंच रहे हैं किंतु धरातल पर कुछ भी दिखाई नही देता इस सम्भन्ध मे थाने पर तैनात सिपाही श्री पाण्डेय से पूछने पर उन्होंने बताया कि

पुलिस विभाग में काम की अधिकता तो बहुत है उसी काम के बीच से थोड़ा सा समय निकाल कर समाज की सेवा करने का प्रयास करता हूं यह मुझे परेणा अपने विभाग से मिली कुशल प्रशिक्षण और अपने उच्य अधिकारी के दिशा निर्देश के क्रम में करता हु और आगे भी करने का प्रयास करूंगा
फिलहाल सिपाही सतीश कुमार पाण्डेय का यह कार्य सराहनीय है जिसकी तारीफ आम जनमानस कर रहा है और ऐसे कार्यो से समाज का विकास जरूर होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.