कैश वैन लूट कांड का पुलिस ने बुधवार को पटाक्षेप कर दिया

Policemukhbir.Com
(पीएम) संवाददाता/कुशीनगर। जनपद में अब तक की सबसे बड़ी हुई कैश वैन लूट कांड का पुलिस ने बुधवार को पटाक्षेप कर दिया है। इस घटना का खुलासा करने में जनपद की स्वाट सर्विलांस साइवर सेल की  टीम भी लगी हुई थी।लूट में शामिल तीन  के पास से नकदी रकम के साथ दो पिस्टल व जिंदा कारतूस सहित घटना में शामिल बोलेरों भी बरामद किया है। इस लूट कांड का खुलासा करने में  एसपी ने 12 टीमों को लगा रखा था गिरफ्तार लोगो को दर्ज मुकदमों की धारा में पुलिस ने जेल के लिए रवाना कर दिया है ।

 बुधवार को पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस कप्तान  राजीव नारायण मिश्र ने बताया कि गत 10 दिसंबर को कप्तानगंज गोरखपुर मार्ग पर जा रही कैश बैन से 1 करोड़ 60 लाख के लूट की घटना का अंजाम बदमाशों ने दिया था जो पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था।

मिश्र ने बताया कि इस घटना का खुलासा करने के लिए दर्जन भर टीमें में लगाई गई थी जो नेपाल बिहार सहित अगल-बगल के जनपदों में काम कर रही थी ।उन्होंने आगे बताया कि बुधवार की सुबह पुलिस को मुखबिर जरिये सूचना मिली कि गत दिनों हुए लूट के सन्दिग्ध  बोलोरो से भलकुंड़वा तिराहे पर खड़े हैं और लुट के रुपए को ठिकाने लगाने के लिए कहीं जाने की फिराक में है।
पुलिस टीम को सूचना मिलते ही चारों तरफ से घेराबंदी कर दिया और मुठभेड़ के बाद तीन  को पकड़ लिया ।
सतीश जायसवाल पुत्र  स्व लक्ष्मण जायसवाल निवासी लार चौक थाना लार जनपद देवरिया नागेंद्र पुत्र जीउत शाह निवासी राजपुर थाना रघुनाथपुर जनपद सिवान बिहार  रामभवन पुत्र सूर्य बली निषाद निवासी जंगल धूसड़ थाना पिपराइच जनपद गोरखपुर के रूप में की गयी जामा तलाशी लेने पर

पुलिस ने सतीश के पास से लगभग ₹2800000 लाख नकद एक अदद पिस्टल व जिंदा कारतूस वहीं नागेंद्र के पास से लगभग ₹300000 लाख नगद एक पिस्टल वह जिंदा कारतूस व राम भवन के पास है ₹1500000 लाख नगद तथा जमीन रजिस्ट्री के कागजात भी बरामद किया गया जो लूट के बाद लगभग ₹1000000 लाख की संपत खरीदी गई है।

पुछताछ के तीनों ने दौरान बताया कि 10 दिसंबर को हुई लूट के रूपये को सुरक्षित करने के लिए हम लोग सिवान बिहार लेकर जा रहे थे। इस घटना में शामिल मास्टरमाइंड सतीश जयसवाल के खिलाफ देवरिया वाराणसी बिहार कुशीनगर में 2 दर्जन से अधिक अपराधिक मुकदमे भी कायम है।इस घटना में अन्य और भी शामिल थे जिन्हें पुलिस जल्द गिरफ्तार करने का दावा कर रही  है।

इस घटना का सफल अनावरण करने में हाटा कोतवाली प्रभारी कमलेश सिंह, महेंद्र चतुर्वेदी कांस्टेबल अजीत प्रकाश वर्मा हिमांशु यादव आशुतोष कुमार धर्मेंद्र गौतम सुशील कुमार शुक्ला  प्रभारी निरीक्षक कसया एसआई राघवेंद्र सिंह कांस्टेबल नीतीश कुमार राकेश यादव श्याम लाल यादव विकास यादव रणविजय सिंह मुबारक खान अनुज यादव अजीत यादव शिवानंद अशोक सिंह अतुल कुमार सिंह तहसील प्रभारी सुशील सिंह अमित कुमार चंद्रभान अनिल कुमार साइबर सेल अभिषेक अतीश कुमार अनिल तिवारी आदि का सराहनीय योगदान रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.