नेपाल से पेट्रोल-डीजल की तस्करी के लिए पगडंडी का इस्तेमाल कर रहे तस्कर

0
49
 भारत में डीजल और पेट्रोल की लगातार मूल्य वृद्धि के कारण नेपाल बॉर्डर के आस-पास के क्षेत्रों में पेट्रोलियम पदार्थों की तस्करी का धंधा खूब चल रहा है भारत से लागत मूल्य पर उपलब्ध होने के कारण पेट्रोल सस्ता पड़ता है

नेपाल से पेट्रोल-डीजल की तस्करी के लिए पगडंडी का इस्तेमाल कर रहे तस्कर
नेपाल के रूपंदेही व नवलपरासी जिले के पेट्रोल पंपों पर पहुंच रहे भारतीय
नेपाल में बड़े वाहनों को भी 100 लीटर से ज्यादा तेल नहीं दिए जाने के निर्देश

पीएम न्यूज सर्विस नौतनवां महाराजगंज।
भारत की सीमा से सटे नेपाल के सोनौली बोर्डर पर इन दिनों पेट्रोल व डीजल की तस्करी बढ़ गई है भारत में डीजल और पेट्रोल की लगातार मूल्य वृद्धि के कारण नेपाल बॉर्डर के आस-पास के क्षेत्रों में पेट्रोलियम पदार्थों की तस्करी का धंधा खूब चल रहा है भारत से लागत मूल्य पर उपलब्ध होने के कारण पेट्रोल सस्ता पड़ता है

नेपाल भारत से बिना टैक्स पेट्रोलियम सिर्फ रिफायनरी प्रोसेसिंग शुल्क के साथ पदार्थ खरीदता है नेपाल को पेट्रोल 40 रुपये और डीजल मात्र 32 रुपये लीटर पड़ता है नेपाल सरकार अपना टैक्स लगाकर पेट्रोल 70.45 (112.70 नेपाली) व डीजल 59.81 (95.70 नेपाली) रुपये में बेच रही है ।

तस्करी वहीं नेपाल की सीमा से सटे पेट्रोल और डीजल की कीमत क्रमशः 89.12 रुपये, 81.62 रुपये है, यानी नेपाल के मुकाबले भारत में पेट्रोल 19 रुपये और डीजल 22 रुपये महंगा है

गांवों के रास्ते हो रही तस्करी नेपाल में पेट्रोलियम पदार्थों के सस्ता होने का फायदा सीमा से सटे जिले के लोग उठा रहे हैं नेपाल के रूपंदेही व नवलपरासी जिले के पेट्रोल पंपों पर बाइक से केन के जरिए लोग चोरी छिपे पेट्रोल व डीजल ला रहे है ये लोग गांवों के रास्ते पेट्रोल-डीजल की तस्करी कर रहे हैं बताया जा रहा है कि पुलिस की मिलीभगत भी है।

इसे भी देखें ,बीर प्रतापी व दृढ़ संकल्पित योद्धा थे मेवाड़ के राजा महाराणा प्रताप  गुड्डू खान

पेट्रोल पंप मालिकों की माने तो लोग भारत में तेल खरीदने से परहेज कर रहे हैं जिससे नेपाल से तस्करी बढ़ी है जिसका सीधा असर सरकार को राजस्व में नुकसान के रूप में उठाना पड़ रहा है।

अधिकारियों ने तस्करी पर अंकुश की बात कही
इस संदर्भ में नेपाल के रुपंदेही एसपी प्रवीण पोखरियाल ने कहा कि भारत में पेट्रोलियम पदार्थों में मूल्य वृद्धि के कारण तस्करी बढ़ी है। सीमावर्ती क्षेत्रों में पूरी जांच-पड़ताल के बाद ही भारतीय वाहनों में तेल देने के निर्देश जारी किए गए है वहीं, बड़े वाहनों को भी 100 लीटर से ज्यादा तेल नहीं दिए जाने के निर्देश हैं। वहीं,

महराजगंज एसपी ने कहा कि सीमावर्ती इलाकों में हर हाल में अंकुश लगाया जाएगा। लोगों को पगडंडी के रास्ते सीमा ने प्रवेश की इजाज़त नहीं है मोटरसाइकिलों व छोटे वाहनों की नियमित जांच के निर्देश दिए गए हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.