अविनाश पांडेय की रिपोर्ट
(पीएम) संवाददाता
धौरहरा चुनार/मिर्जापुर laprvahi ।स्थानीय उपनगर धौरहरा चुनार का टांसफार्मर जलने के कारण 7 दिनों से पूरा गाँव अँधेरा में डूबा है जिसकी सूचना उपभोक्ताओं ने अधिकारी को दी इसके बाद भी मामला जस का तस पड़ा है

टांसफार्मर जलने के कारण 7 दिनों से पूरा गाँव अँधेरा में डूबा है

उल्लेखनीय हैं कि एक तरफ सरकार गाँव को सभी सुविधाओं से सुसज्जित करना चाही लेकिन इस कार्यक्रम को संचालित करने वाले कर्मचारियों ने पलीता लगा दिया मामला चाहे कोई हो
उदाहरण के तौर पर देखा जाय तो बीते दिनों मुख्यमंत्री के आगमन पर
अवशेष सफाई कार्यो में लगे श्रमिक। प्रमुख सचिव टी बैंकटेस ने मुख्यमंत्री के आगमन के दो घंटे पूर्व अदवा बैराज में उतराये हुए दोना पत्तल व कचडे को साफ कराने का निर्देश दिया।और अधीक्षण अभियंता बाणसागर को ड्रस्टबिन रखने का निर्देश दिया।प्रमुख सचिव के निर्देशन पर अधीक्षण अभिंयता नबीन कुमार ने कुडा करकट को निकलवाने के लिए गेट को खुलवाया।इसके बावजूद भी पानी में तैरते हुए दोना पत्तल धारा से हटकर किनारे लग गये।जिसको चुनौती पूर्ण तरीकें से एक श्रमिक को रस्सी के सहारे बैराज में उतार कर कूडा करकट को बाल्टी से बाहर निकलवाया। देर रात से ही बैरकेटिंग का कार्य चलता रहा। बारह बजे तक बिजली न रहने के कारण अधिकारी पसीना पोछते रहे। तेज धूप होने के कारण कुछ अधिकारी छाते के छांव में डटे रहे।ऐसे में इसी तरह कार्य को गती दी जाय तो सरकार की हर योजना जनता के द्वार पहुंच जाएगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.