शराब विक्रेताओं पर कसा शिकंजा 12000 का लगा जुर्माना

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। तहसील क्षेत्र शोहरतगढ़ अंतर्गत शराब की दुकानों का रिकार्ड दुरुस्त ना करने व गेट पास फाइल न मेन्टेन करने व अन्य सफाई आदि की कमी के दृष्टिगत लगभग 12000 रुपये का दंड आरोपित किया गया है। रविवार दोपहर को उप जिलाधिकारी शोहरतगढ़ अनिल कुमार के नेतृत्व में शराब की दुकानों पर छापे मारी की गयी। तहसील क्षेत्र के देशी व अंग्रेजी शराब की दुकानों का औचक निरीक्षण छापामारी कर लाइसेंसी शराब विक्रेताओं को जरूरी निर्देश दिया। उपजिलाधिकारी अनिल कुमार आबकारी निरीक्षक अजय सिंह ने शोहरतगढ़ क्षेत्र के देशी शराब की दुकान चिल्हियां, जमुनी, गौरा, मंझरिया, अंग्रेजी शॉप चिल्हिंयां बियर शॉप अलग-अलग स्थानों के शराब की दुकानों पर पहुंचकर दुकान के लाइसेंस, स्टॉक रजिस्टर, दुकान में रखी शराब की गुणवत्ता आदि की जांच पड़ताल की और सफाई व्यवस्था एवं स्टॉक रजिस्टर से माल का मिलान करने पर कई जगह कमी मिली। टीम के छापेमारी की खबर पर शराब विक्रेताओं के बीच हड़कम्प मचा रहा। निरीक्षणकर्ता अधिकारियों ने कस्बे की शराब दुकानों के साथ कई गांव पर पहुंचकर सघन जांच करते हुए दुकान में रखे शराब के स्टॉक का मिलान पंजिका से कराया, उक्त दुकानों पर निरीक्षण के दौरान पायी गई कमियों के फलस्वरूप उनपर 12000 रुपये का जुर्माना भी ठोंका। उपजिलाधिकारी अनिल कुमार ने आवंटित शराब की दुकानों के लाइसेंस आवंटित स्थल टैगिंग सूचना की भी जांच व मिलान करके संतुष्टि जताई। कार्यवाही के दौरान उपजिलाधिकारी अनिल कुमार के साथ क्षेत्राधिकारी शोहरतगढ़ दिलीप कुमार सिंह, आबकारी निरीक्षक अजय कुमार आदि रहे। उपजिलाधिकारी अनिल कुमार ने बताया की देशी व अंग्रेजी शराब, देशी व बियर की दुकानों की जांच की गई है। जांच के दौरान दुकानों पर स्टॉक रजिस्टर व तमाम बिंदु सही नहीं पाए गए हैं। शराब विक्रेताओं को जरूरी निर्देश दिया गया है। अवैध रूप से मानक विहीन शराब विक्री पर पूरी तरह प्रतिबंध लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.