फसल जलने को लेकर ग्रामीणों ने किया चक्काजाम

धनञ्जय पाण्डेय संवाददाता महराजगंज

पीएम संवाददाता परतावल/महराजगंज । श्यामदेउरवा थाना क्षेत्र के गोधवल चौराहे पर ग्रामीणों ने किया चक्काजाम पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के लगाए नारे बताते चलें कि एक तरफ किसान महंगाई से जूझ रहा है वहीं दूसरी तरफ गेहूं का फसल कटने के समय किसी ना किसी कारणों से आज दिन किसानों के खेतों में आग जल रहे हैं आए दिन यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है और जिला प्रशासन कमेटी गठित कर दी गई है लेकिन अंकुश लगाने में विफल साबित हो रही है इसी क्रम में आज 19 अप्रैल 2019 सोहरौना और मंगलपुर के बीच के सिवान में अचानक गेहूं की फसल में आग लग गई आग का तांडव विकराल था साथ हवा का रफतार तेज होने से आग पर काबू पाना संभव नहीं था जिसके वजह से किसानों की भारी नुकसान हुआ और अब तक लगभग महाराजगंज जिले के हजारों एकड़ जलकर खाक हो गए जिससे किसान अपनी फसल को राख के रूप में देखकर हताश हो जा रहे हैं दो वक्त की रोटी के लिए किसान मोहताज हो जाएंगे खबर लिखे जाने तक फायर ब्रिगेड की गाड़ी लगभग 2:30 बजे तक नहीं पहुंची थी तथा जिले के किसी भी अधिकारियों ने जलते हुए फसल की सुध लेने के लिए किसी भी प्रकार की समुचित व्यवस्था नहीं था जिससे आक्रोशित में आकर दर्जनों गांव के किसान गोधवल चौराहे पर ग़ुस्से में चक्का जाम के माध्यम से प्रदर्शित किया चक्काजाम के माध्यम से किसानों ने सरकार विरोधी नारे तथा जिला प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए किसानों का कहना है कि जिले के सभी अधिकारियों को अवगत कराया लेकिन शाम तक कोई भी अधिकारी एवं फायर ब्रिगेड मौके पर नहीं पहुंचा लोगों का कहना है कि आखिर किन कारणों से परतावल ब्लाक के के अंदर आए दिन फसल जल रहे हैं प्रशासन इस वजह से चुप्पी साधी हुई है किसानों के फसल जलाने वाले वह कौन से लोग हैं जो अब तक प्रशासन के चंगुल से बच निकल रहे हैं अभी तक बड़हरा बरईपार, परसिया, सुमेरगढ़ ,मोहनापुर पिपरपाती, इन सभी गांव के किसान अंगद यादव ,ओंकार नाथ पांडे, अजय जयसवाल, कलावती देवी, सोमई ,आकाश चौरसिया ,सुरेश, रामबदन ,शंभू कनौजिया, मुन्ना यादव ,रुदल यादव ,महेंद्र ,देवेंद्र नाथ गुप्ता ,आदि किसानों के लगभग 50 एकड़ फसल फसल जलकर राख हो गई जबकि की जलती हुई फसल को बचाने के लिए एक वृद्ध दंपति आग से झुलस गई जिसमें वृद्ध महिला की हालत नाजुक बताई जा रही है आसपास के किसानों का कहना है की जिला प्रशासन ने आग से सुरक्षा के लिए 102 कर्मचारियों की टीम गठित है फिर भी उसके बावजूद किसानों के फसल जलकर राख हो जा रहे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.